💟सच्चा प्यार हमेशा गलतइन्सान से
होताहै...
और जब ✔सही इन्सान से प्यार
होता है...
तब वक़्त⌚ गलत होता है. Er kasz

Meri waffa se jyada kimat to
Us bewaffa ki kahaniya kmma gyi
Er kasz

Umar bhar ek hi Gila rahega Us se
wo kabhi mai or tum ko Hum na kar saka
Er kasz

Bewaqt Bewajha Besabab Si Berukhi Teri
Or Fir Bhi Tujhe Beinteha Chahne Ki Bebasi Meri
Er kasz

Chaale Jayenge Ek Din Hum Tujhe Tere Haal pe Chod kar E Sitaamgar
Kadaar Kya Hoti Hai Tuje Waqt Sikhaa Degaa
Er kasz

दोस्ती और दुश्मनी मजेदार हैं बस निभाने का दम होना चाहिए !! Er kasz

जनाजा उठा है आज कसमों का मेरी
एक कन्धा तो तेरे वादों का भी बनता है

मेरे दिल के अहसासो को समझा न कोई ...हर एक ने मेरे दर्द का तमाशा बना दिया...Er kasz

सम्भाल के रखना अपनी पीठ को...
शाबाशी " और " खंजर "दोनों वहीं मिलते है ...Er kasz

मंजिल का नाराज होना भी जायज था
हम भी तो अजनबी राहों से दिल लगा बैठे थे

कितने आसान से लफ़्ज़ों में कह गया वो..
के बस दिल ही तोडा है कोनसी जान ली है..

खामोशियाँ उदासियों की वजह से नहीं,
बल्कि यादों की वजह से हुआ करती हैं..

उम्र कैद की तरह होते हैं कुछ रिश्ते जहा जमानत देकर भी रिहाई मुमकिन नही ! Er kasz

ज़र्रा ज़र्रा जल जाने को हाज़िर हूँ,
बस शर्त है कि वो ...आँच तुम्हारी हो. Er kasz

पतंग सी हैं जिंदगी, कहाँ तक जाएगी
रात हो या उम्र, एक ना एक दिन कट ही जाएगी
er kasz