आकाश के तारों में खोया है जहाँ सारा; लगता है प्यारा एक-एक तारा; उन तारों में सबसे प्यारा है एक सितारा; जो इस वक्त पढ़ रहा है sms हमारा। गुड नाईट!

चाँद तारों से रात जगमगाने लगी; फूलों की खुश्बू दुनिया को महकाने लगी; सो जाओ रात हो गयी काफ़ी; निंदिया रानी भी आपको देखने आने लगी। गुड नाईट!

काजल सी खामोश रातों में भी दिल में रौशनी जगमगाने लगती है; जब आप जैसे दोस्त का ख्याल आता है तो हौले से यह दिल कहता है शुभ रात्रि! शुभ रात्रि!

हर सपना ख़ुशी पाने से पूरा नहीं होता; कोई किसी के बिना अधूरा नहीं होता; जो चाँद रोशन करता है रात भर; हर रात वो भी पूरा नहीं होता। शुभ रात्रि!

चाँदनी रात में जब सारा जहान सोता है; किसी की याद में कोई बदनसीब रोता है; ख़ुदा किसी को प्यार पे फ़िदा ना करे; और करे तो जुदा ना करे। शुभ रात्रि!

चाँद जब निकलता है तो तेरा गुमां होता है; इस कदर दिल फरेब समय होता है; हम तेरी याद में खोए रहते हैं; नींद में जब सारा जहां होता है। शुभ रात्रि!

कामयाब होने के लिए मंजिल जरूरी है; और उसे पाने के लिए ख्वाब; और ख्वाब देखने के लिए नींद; तो अपनी मंजिल की तरफ कदम बढ़ाओ; और सो जाओ। शुभ रात्रि!

जगमगाने लगी रात चाँद तारों से; महक रही है दुनिया फूलों की खुशबु से; सो जाओ अब रात हो गई है काफी; आँख बंद करो और कहो निंदिया रानी से। गुड नाईट!

जीवन के हर मोड़ पर सुनहरी यादों को रहने दो; जुबां पर हर वक्त मिठास रहने दो; ये अंदाज है जीने का; ना रहो उदास और ना किसी को रहने दो। शुभ रात्रि!

फिर उम्मीदों भरी रात आई है; चाँद तारों को भी साथ लाई है; हमारे एक संदेश का असर तो देखिए; कि ठंडी हवा भी आपको शुभ रात्रि कहने आई है! शुभ रात्रि!

जब शाम के बाद आ जाती है रात; हर बात में फिर समा जाती है तेरी याद; बहुत तनहा हो जाती ये जिंदगी मेरी; अगर नहीं मिलता कभी जो आपका साथ। शुभ रात्रि!

ऐसी हसीं आज बहारों की रात हैं; एक चाँद आसमा पर है एक मेरे पास है; देने वाले ने कोई कमी ना की; किसको क्या मिला ये मुकद्दर की बात है। शुभ रात्रि!

चाँद तारो से रात जगमगाने लगी; फूलों की खुशबु से दुनिया महकने लगी; सो जाओ रात हो गई है काफी; निंदिया रानी भी आपको देखने आने लगी। शुभ रात्रि।

सोती हुई आँखों को सलाम हमारा; मीठे सुनहरे सपनों को आदर्श हमारा; दिल में रहा प्यार का एहसास जिंदा; आज की रात का यही पैगाम हमारा। शुभ रात्रि!

ये रात की चांदनी आपके आँगन में आये; ये तारे सारे लोरी गा कर सुनायें; हो आपके इतने प्यारे सपने यार; कि नींद में भी आप मुस्कुराएं। शुभ रात्रि!