हम तो मौजूद थे रात में उजालों की तरह​;
लोग निकले ही नहीं ​ढूंढने वालों की तरह​;
दिल तो क्या हम रूह में भी उतर जाते​;
उस ने चाहा ही नहीं चाहने वालों की तरह​।

प्यार करने वालो की किस्मत ख़राब होती हैं हर वक़्त इन्तहा की घड़ी साथ होती हैं
वक़्त मिले तो रिश्तो की किताब खोल के देखना दोस्ती हर रिश्तो से लाजवाब होती हैं

कभी मुस्कारा के रोये कभी रो के मुस्काये
जब भी तेरी याद तब तुजे भुला के रोये
एक तेरा नाम था जिसे हजार बार लिखा
जितना लिख के खुश होवे उस से ज्यादा मिटा के रोये

खिड़की से झांकता हूँ मै सबसे नज़र बचा कर
बेचैन हो रहा हूँ क्यों घर की छत पे आ कर
क्या ढूँढता हूँ जाने क्या चीज खो गई है
इन्सान हूँ शायद मोहब्बत हमको भी हो गई है

कोई नहीं डांटता किसी को मुझ पर प्यार नहीं आता
अब वो स्कूल जाने के नाम पर बुखार नहीं आता
सुबह सुबह आ जाते थे खेलने के लिए बुलानेअब
तो मिलने को भी कोई यार नहीं आता

पलकों में आँसु और दिल में दर्द सोया है
हँसने वालो को क्या पता रोने वाला किस कदर रोया है
ये तो बस वही जान सकता है मेरी तनहाई का आलम
जिसने जिन्दगी में किसी को पाने से पहले खोया है

तेरी मेरी ‪‎कहानी‬, जेसे बारिशो‬ का ‪पानी‬..

वो मुझे नफरत करे या प्यार, मै तो इक दिवानa हूं..

कोइ तो गुफ्तगुँ कर लो
कि आज हम बहुत उदास है...

प्यार मे गम और दोस्ती मे हम
दोनो ही FAMOUS हैं यार

कोई नया जखम नही दिया उसने
पता करो वो ठीक तो हे

तुम भी online मैं भी online..छुप छुपकर देख रहे है..
नो typing.. नो typing..

ए खुदा तुझे इश्क का वास्ता
या यार दे या मार दे

काश एक तारा टूट जाए आज.
.
मुझे मौत मांगनी है...".

कोई नया जखम नही दिया उसने,
पता करो वो ठीक तो हे?