सच्चाई और ईमानदारी का रास्ता बहुत कठिन है। इस पर चलने के लिए न जाने कितने लोगों को रास्ते से हटाना पड़ता है।

जिंदगी जीने का मकसद खास होना चाहिए; और अपने आप पर विश्वास होना चाहिए; जीवन में खुशियों की कोई कमी नहीं होती; बस जीने का अंदाज़ होना चाहिए।

याद रखिये सबसे बड़ा अपराध अन्याय सहना और गलत के साथ समझौता करना है।

कभी किसी की भावनाओं के साथ मत खेलो हो सकता है आप ये खेल जीत जायें; पर यह पक्का है कि उस इंसान से आप हमेशा के लिए हार जाओगे।

झूठा अपनापन तो हर कोई जताता है; वो अपना ही क्या जो पल-पल सताता है; यकीन ना करना हर किसी पर; क्योंकि करीब है कितना कोई यह तो वक़्त ही बताता है।

अगर आप अपनी जिम्मेदारी खुद ले लेते हैं तो आप में अपने सपने सच करने की चाहत अपने आप विकसित हो जाएगी।

दुनिया का उसूल है: जब तक काम है तेरा नाम है वरना दूर से ही सलाम है।

कर्तव्य ही ऐसा आदर्श है जो कभी धोखा नहीं दे सकता।

अगर कोई आप पर आँख बंद करके भरोसा करे तो आप उसे यह एहसास मत दिलाओ कि वो सच में अंधा है।

दर्द हमेशा अपने ही देते हैं! वर्ना गैरों को क्या पता कि आपको तकलीफ किस बात से होती है!

जिंदगी में अच्छे लोगों की तलाश मत करो। खुद अच्छे बन जाओ! आपसे मिलकर शायद किसी की तलाश पूरी हो जाए।

इंसान के जिस्म का सबसे खूबसूरत हिस्सा दिल है और अगर वो ही साफ़ ना हो तो चमकता चेहरा भी किसी काम का नहीं।

अगर परछाई कद से और बातें औकात से बड़ी होने लगें तो समझ लो सूरज डूबने ही वाला है।

करम तेरे अच्छे हैं तो किस्मत तेरी दासी है; नीयत तेरी अच्छी है तो घर में मथुरा काशी है।

मुस्कुराते रहो तो दुनिया आपके कदमों में होगी क्योंकि आँसुओं को तो आँखें भी जगह नहीं देती।